ALL राजनीति स्पोर्ट्स आरएसएस न्यूज धार्मिक कोरोना वायरस योग व्यायाम आसान / लाइफ स्टाइल / खान पान ताजा न्यूज़ देश - विदेश कहानी ,कविता ,महापुरुषों की जीवनियां प्रदेश न्यूज
राजधानी पटना में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को समीक्षा बैठक की कई अधिकारियों पर कार्रवाई
October 14, 2019 • विशेष संवाददाता
  • राजधानी पटना में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को समीक्षा बैठक की और 15 से अधिक अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिए हैं कई लोगों को कारण बताओ नोटिस भी जारी 
  •  
  • जिन 15 अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई हुई, उनमें 11 बुडको के इंजीनियर हैं
  • चार अधिकारी पटना नगर निगम के हैं जिन्हें शो कॉज नोटिस दिया गया है

राजधानी पटना में जलजमाव की समस्या को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को समीक्षा बैठक की और 15 अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई का आदेश दिया.

मुख्य सचिव दीपक कुमार ने बताया कि एक तरफ जहां कई अधिकारियों को सस्पेंड किया गया है, वहीं दूसरी तरफ कई कर्मचारियों को शो कॉज नोटिस भी जारी किया गया है. जिन 15 अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की गई है उनमें 11 इंजीनियर बिहार अर्बन इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड (BUIDCO) के इंजीनियर हैं. इन सभी को सरकार ने शो कॉज नोटिस जारी किया है. बाकी चार अधिकारी पटना नगर निगम के हैं जिन्हें शो कॉज नोटिस दिया गया है.

कई लोगों को कारण बताओ नोटिस जारी

सात दिन के अंदर इनके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी. पटना नगर निगम के कई सिटी मैनेजर समेत 22 कर्मी जो पंपिंग स्टेशन पर जलजमाव के दौरान कार्यरत हैं, उन्हें शो कॉज नोटिस जारी किया गया है. इनके खिलाफ भी एक-दो दिन के अंदर कार्रवाई की जाएगी. मुख्यमंत्री की इस समीक्षा बैठक में विकास आयुक्त की अध्यक्षता में एक कमेटी का भी गठन किया गया है जिसमें कई विभाग के अधिकारी शामिल होंगे. यह समिति 1 महीने के अंदर जलजमाव को लेकर अपनी विस्तृत रिपोर्ट सरकार को सौंपेगी.

गौरतलब है कि 28 से 30 सितंबर के बीच राजधानी पटना में हुए में मूसलाधार बारिश के बाद कई इलाकों में जलजमाव की समस्या उत्पन्न हो गई और इससे निजात दिलाने के लिए सरकार अब तक मशक्कत कर रही है.

 

राजधानी पटना में इस जलजमाव को लेकर नीतीश सरकार को काफी फजीहत झेलनी पड़ी थी और इसी को लेकर सोमवार को मुख्यमंत्री ने समीक्षा बैठक बुलाई थी. बैठक में उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, नगर विकास विभाग के मंत्री सुरेश शर्मा और अन्य कई विभागों के प्रधान सचिव शामिल हुए. इस बैठक में पटना जिला प्रशासन और पटना नगर निगम समेत बुडको के आला अधिकारी भी शामिल हुए.   

क्या हुई कार्रवाई?

पटना नगर निगम के 2 अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस दिया गया है. कंकड़बाग के सिटी मैनेजर और चीफ सेनेटरी इंस्पेक्टर, बांकीपुर में सभी सेनेटरी इंस्पेक्टरों को भी कारण बताओ नोटिस दिया गया है. इसके अलावा 11 इंजीनियरों को भी कारण बताओ नोटिस दिया गया है. 7 दिन के अंदर उनपर कार्रवाई होगी. एक इंजीनियर का तबादला कर दिया गया है.

नमामि गंगे प्रोजेक्ट पर काम कर रहे L-T के प्रोजेक्ट मैनेजर को भी कारण बताओ नोटिस दिया गया है. मुख्य सचिव ने आगे बताया कि कंकड़बाग के 4 सेनेटरी इंस्पेक्टरों को निलंबित कर दिया गया है. इसके अलावा पाटलिपुत्रा के 2 सेनेटरी इंस्पेक्टरों को भी सस्पेंड किया गया है. पंपिंग स्टेशनों पर काम करने वाले 22 कर्मचारियों को भी ड्यूटी की लापरवाही के कारण कारण बताओ नोटिस जारी किया गया.