ALL राजनीति स्पोर्ट्स आरएसएस न्यूज धार्मिक कोरोना वायरस योग व्यायाम आसान / लाइफ स्टाइल / खान पान ताजा न्यूज़ देश - विदेश कहानी ,कविता ,महापुरुषों की जीवनियां प्रदेश न्यूज
मध्य प्रदेश में आजकल चरण वंदन का दौर जारी है
November 16, 2019 • विशेष संवाददाता • राजनीति

madhya pradesh bhopal मध्य प्रदेश भोपाल मैं इन दिनों चरण वंदन का दौर जारी है

विधायक और अधिकारी कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के पैर पड़ रहे हैं।

भोपाल. मध्यप्रदेश में इन दिनों चरण वंदन का दौर है। 'महाराज', 'राजा' और मंत्रियों की चरण वंदना हो तो फिर भला 'सरकार' कैसे पीछे रहते। चरण वंदन के इस दौर में अब 'सरकार' भी शामिल हो गए हैं। पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया, फिर सज्जन सिंह वर्मा, पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह और अब सीएम कमल नाथ की मध्यप्रदेश में चरण वंदना हो रही है। चरण वंदन की पराकाष्ठा तो तब हो गई जब मध्यप्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष भी पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह के सामने नतमस्तक हो गए। वैसे पैर पड़ने में बुराई क्या है आशीर्वाद मिलता है, कुर्सी सलामत रहती है और चलती रहती है सत्ता की गाड़ी बेरोक-टोक।


महिला विधायक ने छुए कमल नाथ के पैर
मुख्यमंत्री कमल नाथ शुक्रवार को विदिशा पहुंचे थे। यहां मंच पर चढ़ते ही एक महिला विधायक ने मुख्यमंत्री कमल नाथ के पैर छुए। कमल नाथ के पैर छूने वाली विधायक भाजपा की राजश्री सिंह हैं। महिला विधायक के पैरे पड़ने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। वहीं, दूसरी तरफ भाजपा विधायक के पैरे छूने को लेकर राजनीति भी गर्म हो गई है। राजश्री सिंह कांग्रेस से भाजपा में शामिल हुई हैं। वहीं, इस मंच में एक और नजारा देखने को मिला जब भाजपा विधायक सीएम की चरण वंदना कर रहीं हों तो भला सरकार में मंत्री कैसे पीछे रहते। इसी मंच पर मौजूद विदिशा के प्रभारी मंत्री हर्ष यादव भी मुख्यमंत्री कमलनाथ के पैर छूते हुए कैमरे में कैद हो गए।

विधानसभा अध्यक्ष भी नतमस्तक
शुक्रवार को पूर्व सीएम और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह जबलपुर पहुंचे थे। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के स्वागत के लिए कांग्रेस के कई नेता मौजूद थे लेकिन विधानसभा अध्यक्ष तो दिग्विजय सिंह के चरणों की वंदना करने लगे। दिग्विजय सिंह के गाड़ी से उतरते ही विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति ने दिग्विजय सिंह की चरण वंदना की।

दिग्विजय ने दिलाई थी टिकट
एनपी प्रजापति को दिग्विजय सिंह खेमे का माना जाता है। कांग्रेस नेताओं का यह भी कहना है कि पहली बार दिग्विजय सिंह ने ही विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति विधानसभा का टिकट दिलवाया था। इसलिए वे उनका सम्मान करते हैं।

महाराज की भी चरण वंदना
ज्योतिरादित्य सिंधिया सोमवार को एक दिवसीय दौरे पर ग्वालियर पहुंचे थे। इस दौरान ज्योतिरादित्य सिंधिया के स्वागत के लिए कांग्रेस कार्यकर्ता और कमल नाथ सरकार के कई मंत्री ग्वालियर रेलवे स्टेशन पहुंचे थे। सिंधिया के स्वागत में कमल नाथ सरकार के खाद्य मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर भी पहुंचे थे। इस दौरान वो जनता के सामने ही ज्योतिरादित्य सिंधिया के पैरों में दंडवत हो गए। मंत्री के पैर छूने पर जब सोशल मीडिया में हंगामा बढ़ा तो प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा- मैं ज्योतिरादित्य सिंधिया का सिपाही हूं और यह मेरे लिए गर्व की बात है। मैं हमेशा से ही सिंधिया जी का ऐसे ही स्वागत करता हूं।

अधिकारी ने मंत्री के छुए पैर
गुरु नानक देव की 550वें प्रकाश पर्व में शामिल होने के लिए मंत्री सज्जन सिंह वर्मा देवास जिले के एक गुरुद्वारे पहुंचे थे। मंत्री के गुरुद्वारे पहुंचते ही वहां पहले से मौजूदा देवास नगर निगम की आयुक्त संजना जैन अपने स्थान से उठीं और फिर मंत्री के पैर छुए। संजना जैन का वीडियो जब सोशल मीडिया में वायरल हुआ तो उन्होंने कहा कि अपने से बड़ों के पैर पड़ने में कोई बुराई नहीं है