ALL राजनीति आरएसएस न्यूज स्पोर्ट्स धार्मिक ताजा न्यूज़ कहानी ,कविता ,महापुरुषों की जीवनियां प्रदेश न्यूज खान पान लाइफ स्टाइल योग व्यायाम आसान
मध्य प्रदेश इंदौर में शुक्रवार को मिलियन कन्वेंशन सेंटर में मैग्नीफिसेंट एमपी 2019 का शुभारंभ हुआ
October 19, 2019 • विशेष संवाददाता
  • मध्य प्रदेश इंदौर शुक्रवार को मिलियन कन्वेंशन सेंटर में मैग्नीफिसेंट एम पी 2019 आप का शुभारंभ हुआ उद्योगपति मुकेश अंबानी ने कहा कि मध्य प्रदेश न केवल भारत के दिल में विराजमान हैं बल्कि भारत के मन में भी विराजमान हैं 
  •  
  •  

इंदौर. शुक्रवार को इंदौर के ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर में मैग्नीफिसेंट एमपी-2019 का शुभारंभ किया गया। इस अवसर पर देश के कई बड़े उद्योगपतियों ने मप्र में निवेश की बेहतर संभावना बताते हुए यहां निवेश करने की घोषणा की। उद्योगपति मुकेश अंबानी ने वेबकास्ट के माध्यम से कहा कि मप्र भारत के दिल में विराजमान है। एसईजी के रवि सीईओ रवि झुनझुनवाला ने बताया कि उनकी कंपनी मप्र में 1200 करोड़ का निवेश कर रही है। ट्राईडेंट समूह के चेयरमैनराजेन्द्र गुप्ता ने 3000 करोड़ औरआईटीसी के संजीव पुरी ने 700 करोड़ निवेश करने की बात कही।


मप्र में निवेश का बेहतर माहौल- अंबानी
उद्योगपति मुकेश अंबानी ने कहा कि मप्र ना केवल भारत के दिल में विराजमान है, बल्कि भारत के मन में भी विराजमान है। अंबानी ने कहा कि जिओ अब हिंदी में भी उपलब्ध है और मप्र के लोगों में बदलाव ला रहा है। रिलायंस द्वारा यहां बड़े पैमाने पर निवेश किया गया है। मप्र ने देश के लिए एक मिशाल पेश की है। समिट में नहीं पहुंचने के लिए खेद है। मप्र में निवेश के लिए बेहतर माहाैल है, यह मैं अपने पर्सनल एक्पीरियंस से कह रहा हूं, यहां वाटर, कृषि सहित अन्य सभी प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध है।


एन श्रीनिवासन, इंडिया सीमेंट - मप्र ऐसा राज्य है जहां निवेश की काफी संभावना मौजूद है। यहां पर सभी संसाधन उपलब्ध है जिनका अब तक पूरा उपयोग नहीं किया जा सका है। अगले कुछ सालों में हम अपना निवेश मप्र में बढ़ाएंगे। मप्र के मुख्यमंत्री काफी ऊर्जावान है और वे उद्योगपतियों की आवश्यक्ता को समझते है।


रवि झुनझुनवाला, सीईओ, एसईजी- 1975 में भोपाल से 30 किलोमीटर दूर मंडीद्वीप में हमे मप्र सरकार द्वारा 100 एकड़ जमीन उद्योग लगाने के लिए आवंटित की गई थी। 22 करोड़ की लागत से 1977 में हमार प्लांट प्रारंभ हुआ था। तब से लेकर अब तक मप्र में हमारा निवेश लगातार बढ़ता जा रहा है। अब हम यहां 1200 करोड़ के निवेश से अपने प्लांट का विस्तार कर रहे है।

चंद्रजीत बनर्जी, डायरेक्टर जनरल, सीआईआई - यहां उद्योगों के लिए स्किल कर्मचारी तैयार करने का काम किया जा रहा है जो की उद्योगों के लिए अच्छा है। कई सारे प्रायवेट और सरकारी सेंटरों द्वारा यह कार्य किया जा रहा है। भोपाल, जबलपुर में सीआईआई द्वारा मॉडल कॅरियर सेंटर प्रारंभ किया गया है। जहां स्किल कर्मचरी तैयार किए जाते है।

राजेन्द्र गुप्ता, चेयरमैन,ट्राईडेंट- कमलनाथ मप्र के ब्रांड एक्बेस्टर है। हमारा समूह मप्र में 3000 करोड़ रुपए का निवेश अगले 24 मंथ में किया जा रहा है। हम यहां 100 मेगावॉट सोलर प्लांट में भी निवेश करने वाले है। प्रदेश सरकार से निवेदन है कि प्रदेश में गन्नेकी खेती को बढ़ावा दिया जाए जिससे एथनॉल का उत्पादन प्रदेश में ही हो सके।

राकेश भारती मित्तल,वीसी, भारती एंटरप्राइजेज- हमने मप्र में 8500 करोड़ का निवेश किया है। इंदौर, धार और खंडवा में स्कील डेवलपमेंट के केन्द्र प्रारंभ किए गए है जो बेहतर पहल है। फूड प्रोसेसिंग सेक्टर में मप्र में सबसे अधिक निवेश की संभावना है, इसे बढ़ाने के लिए प्रयास करना चाहिए।

अदि गोदरेज, गोदरेज ग्रुप- मप्र सरकार प्रदेश में निवेश को लेकर काफी संजीदा है। अगले कुछ सालों में हम यहां 700 करोड़ रुपए का निवेश कर रहे है। यहां पर नए निवेश की काफी संभावना उपलब्ध है।

दिलीप संघवी, फाउंडर, सन फार्मा - हम मप्र के देवास और मालनपुर में स्थित अपने प्लांट का विस्तार कर रहे है। निवेश के लिए मप्र काफी बेहतर राज्य है।

संजीव पुरी, चेयरमैन, आईटीसी - मैं मप्र के मुख्यमंत्री कमलनाथ को इस शानदार आयोेजन के लिए बधाई देता हुं। मप्र में सभी संसाधन प्रचुर मात्रा में उपलब्ध है। भविष्य में यहां निवेश में काफी बढ़ोतरी होगी।

मार्क जेरोलट, लेप इंडिया - (मार्क ने नमस्ते बोलेकर हिंदी में अपनी बात प्रारंभ की, सभी ने तालियां बजाकर उनका स्वागत किया) मार्क ने कहा कि कंट्रोल कम्युनिकेशन केबल और रोबोटिक टेक्नोलॉजी में पिछले 6 साल से मप्र में काम कर रहे है। मप्र में कनेक्टिविटी और लोकेशन निवेश के लिए सबसे बेहतर है। यहां पानी और बिजली की उपलब्धता भी अन्य प्रदेशों के मुकाबले बेहतर है। इंडो जर्मन टूल रूम यहां स्थापित होने से स्किल कर्मचारी आसानी से उपलब्ध है।