ALL आरएसएस न्यूज राजनीति धार्मिक इंदौर न्यूज कहानी प्रदेश न्यूज लाइफ स्टाइल खान पान योग व्यायाम आसान स्पोर्ट्स
मध्य प्रदेश भोपाल सीएम हेल्पलाइन के .प्रकरणों में लापरवाही पर रखने वाले अधिकारियों की दौ-दौ महिनो कि वेतन रोकी जाएगी
November 7, 2019 • जनस्वामी दर्पण

मध्य प्रदेश /भोपाल सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों में लापरवाही करने वाले  अधिकारियों की दो दो महीने की वेतन वृद्धि रोकी जाएगी कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने   कई विभागों के अफसरों को नोटिस जारी किया

कर्मचारी हलचल: सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों में लेटलतीफी पर कलेक्टर ने दिए नोटिस

भोपाल. सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों में लापरवाही करने वाले अधिकारियों की दो-दो वेतनवृद्धि रोकी जाएगी। इस संबंध में बुधवार को कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने कई विभागों के अफसरों को नोटिस जारी किया है। जिन अधिकारियों को नोटिस दिए गए हैं उनमें उप संचालक पशुपालन विभाग डीके राय, प्रभारी कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग एसके मालवीय, बीईओ फंदा रवींद्र कुमार जैन, सहायक आयुक्त आदिम जाति एवं जनजाति कल्याण अविनाश चतुर्वेदी, सहायक स्वच्छता प्रभारी (सीवेज) अशरफ अली, संभागीय उप परिवहन आयुक्त, संजय सोनी, उप नगर यंत्री प्रकाश व्यवस्था, तापस दास गुप्ता, मंडी सचिव कृषि उपज मंडी समिति, राजेन्द्र सिंह बघेल , बीआरसीसी स्कूल शिक्षा विभाग, सुबोध श्रीवास्तव, राकेश शर्मा प्रभारी डॉग सेल, राजीव अग्निहोत्री सहायक यंत्री विद्युत स्मार्टसिटी, विजय शाक्या उप स्वास्थ्य पर्यवेक्षक, पी.के.जडिय़ा सहायक यंत्री भवन अनुज्ञा, अजय श्रवण सहायक स्वास्थ्य अधिकारी नगर निगम तथा मो.समीर प्रभारी अतिक्रमण ननिभोपाल शामिल हैं।

विक्रम विवि के पूर्व कुलपति की जांच करेगा ईओडब्ल्यू
भोपाल. उज्जैन के विक्रम विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति प्रो. एसएस पांडे पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ करेगा। उच्च शिक्षा विभाग ने इस संबंध में सहायक महानिरीक्षक (अपराध) ईओडब्ल्यू को पत्र लिखकर आवश्यक कार्रवाई करने को कहा है। विक्रम विवि के कुलपति रहते हुए प्रो. एसएस पांडे पर पुस्तक खरीदी, निजी कॉलेजों में शिक्षकों की नियुक्ति में चयन समिति का गठन नहीं होने जैसे कई मामलों को लेकर शिकायत हुई थी।

एनएचएम ने बढ़ाई डॉक्टरों की सैलरी, प्रति मरीज पर इंसेंटिव भी देने की तैयारी
भोपाल. प्रदेश में डॉक्टरों की कमी को दूर करने के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन ने डॉक्टरों की सैलरी बढ़ाने का निर्णय लिया है। ज्यादा मरीज देखने पर डॉक्टरों को इंसेंटिव देने की तैयारी भी की गई है। मिशन की एमडी छवि भारद्वाज ने निर्देश जारी किए हैं। शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में पदस्थ चिकित्सकों को एक माह में डेढ़ हजार से ज्यादा मरीज देखने पर प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। हालांकि ये 25 फ ीसदी से अधिक यानि 15 हजार रुपए तक होगी। जिलों को दो श्रेणियों में बांटा गया है।