ALL राजनीति स्पोर्ट्स आरएसएस न्यूज धार्मिक कोरोना वायरस योग व्यायाम आसान / लाइफ स्टाइल / खान पान ताजा न्यूज़ देश - विदेश कहानी ,कविता ,महापुरुषों की जीवनियां प्रदेश न्यूज
Bhopal मध्यप्रदेश भोपाल में आज भाजपा विधायक दल की बैठक शाम को शपथ ले सकते हैं नए सीएम
March 23, 2020 • nd..sa... • प्रदेश न्यूज

भोपाल। मध्य प्रदेश के भोपाल में आज 6 बजे भाजपा विधायक दल की बैठक बुलाई गई है, जिसमें नेता चुना जाएगा। इसके बाद शाम को ही नए सीएम को शपथ भी दिलवाई जा सकती है। जानकारी के मुताबिक विधायक दल की बैठक में प्रदेश प्रभारी और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ विनय सहस्त्रबुद्धे भी शामिल होंगे। राज्यपाल लालजी टंडन के सामने भाजपा आज ही दावा पेश करेगी और सीएम को शपथ दिलवाई जा सकती है। माना जा रहा है कि विधायक दल की बैठक में शिवराज सिंह चौहान को नेता चुनाव जा सकता है।                                                                                                                                              मध्य प्रदेश में पिछले कुछ दिनों से छाए सियासी कोहरे के अब छंटने के आसार दिखने लगे हैं। सबकुछ ठीक ठाक रहा तो 25 मार्च को प्रदेश के नए मुख्यमंत्री को शपथ दिलाई जा सकती है। पार्टी सूत्रों के मुताबिक पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नाम पर सहमति बन चुकी है और वह चौथी बार राज्य के मुख्यमंत्री पद की कमान संभालेंगे। इससे पहले 24 मार्च की शाम या देर रात को भाजपा विधायक दल की औपचारिक बैठक में चौहान को नेता चुना जाएगा। इसके बाद वे राज्यपाल लालजी टंडन के समक्ष नई सरकार के गठन का दावा पेश करेंगे। पार्टी की तैयारी पहले सोमवार को ही विधायक दल की बैठक बुलाने की थी, लेकिन कोरोना वायरस के चलते जनता कयूं और लॉक डाउन के कारण इसे आगे बढ़ा दिया गया। पार्टी ने शिवराज को नेता बनाए जाने की औपचारिक घोषणा अभी नहीं की है, लेकिन उच्च पदस्थ सूत्रों के मुताबिक हाईकमान ने उन्हें कमान सौंपने का मन बना लिया है।                                                                                                                        प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को दो बार शिवराज सिंह चौहान से कोरोना के मुद्दे पर बातचीत की थी। इसमें उन्होंने चौहान को प्रशासन से संपर्क बनाए रखने के लिए भी कहा है। दूसरी वजह सिंधिया के समर्थन के कारण बन रही सरकार को चलाने में समन्वय का मुद्दा महत्वपूर्ण रहेगा, इसलिए चौहान के अनुभव का पार्टी को लाभ मिलेगा। चुनिंदा लोगों की मौजूदगी में शपथ पार्टी सूत्रों ने बताया कि शपथ ग्रहण समारोह में भी किसी तरह के ताम-झाम नहीं करने का फैसला पार्टी ने किया हैचुनिंदा लोगों की मौजूदगी में सादगी से शपथ दिलाई जाएगी। मालूम हो कि सरकार के अल्पमत में आने के बाद 18 मार्च को कमल नाथ ने इस्तीफा दे दिया था।