ALL राजनीति स्पोर्ट्स आरएसएस न्यूज धार्मिक कोरोना वायरस योग व्यायाम आसान / लाइफ स्टाइल / खान पान ताजा न्यूज़ देश - विदेश कहानी ,कविता ,महापुरुषों की जीवनियां प्रदेश न्यूज
आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना महामारी के चलते सभी मुख्यमंत्रियों के साथ में वीडियो कॉन्फ्रेंस के द्वारा बैठक कर बात की प्रधानमंत्री श्रीनरेंद्र मोदी ने बैठक में लगाया
April 11, 2020 • Outlook ..sa.. • देश - विदेश

कोरोना वायरस के मद्देनजर देश में लगाए गए संपूर्ण लॉकडाउन को 14 अप्रैल के बाद बढ़ाया जाए या नहीं इस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के विभिन्न राज्यों  के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत कर रहे हैं। इस बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाने की वकालत की हैकेजरीवाल ने राष्ट्रीय स्तर पर लॉकडाउन आगे जारी रखने की मांग की है।

प्रधानमंत्री ने आज लगातार तीसरी बार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बातचीत की। मोदी इस दौरान गमछे को ही मास्क जैसे लगाए नजर आए। पीएम मोदी मुख्यमंत्रियों से ऐसे समय में बात कर रहे हैं माना जा रहा है कि सरकार देशभर में लागु य़ह लॉकडाउन को कुछ संभावित छूट के साथ बढ़ा सकती है।

दिए जाने वाले सुझावों पर किया जाएगा गौर-

मोदी

प्रधानमंत्री मोदी ने मुख्यमंत्रियों को भरोसा दिलाया कि राज्यों से मिले सुझावों पर गौर किया जाएगा। कॉन्फ्रेंसिंग में अमरिंदर सिंह (पंजाब), ममता बनर्जी (पश्चिम बंगाल), उद्धव ठाकरे (महाराष्ट्र), योगी आदित्यनाथ (उत्तर प्रदेश), मनोहर लाल खट्टर (हरियाणा), के चंद्रशेखर राव (तेलंगाना) और नीतीश कुमार (बिहार) समेत दूसरे राज्यों के मुख्यमंत्री शामिल हुए। इससे पहले मोदी 20 मार्च और 2 अप्रैल को भी मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर चुके है।

लॉकडाउन की अवधि को बढ़ा चुके हैं ये दो राज्य

पंजाब और ओडिशा पहले ही अपने राज्यों में जारी लॉकडाउन की अवधि को बढ़ा चुके हैं। वहीं देश में जारी लॉकडाउन आने वाले मंगलवार को खत्म हो रहा है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने विभिन्न पहलुओं पर राज्य सरकारों से विचार मांगे  जिसमें यह जानकारी भी शामिल है कि क्या अधिक लोगों और सेवाओं को छूट दी जानी चाहिए। 

वर्तमान में जारी लॉकडाउन में केवल जरूरी सेवाओं को छूट दी गई है। यह दूसरी बार है जब प्रधानमंत्री ने लॉकडाउन के बाद मुख्यमंत्रियों के साथ बातचीत की है। दो अप्रैल को हुई बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने जारी लॉकडाउन से बाहर निकलने के लिए सख्त कदम उठाने के लिए कहा था।

मास्क की जगह गमछे के उपयोग को दें बढ़ावा-

मोदी

इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के जिलाध्यक्ष से बातचीत में कहा था कि मास्क तैयार करने के लिए अनावश्यक पैसा खर्च करने की जरुरत नहीं है। पूर्वांचल में तो कंधे पर तौलिया व गमछा रखने की परंपरा है, इसे जारी रखें और इसी से मुंह ढकने के लिए लोगों को जागरूक करें। जिलाध्यक्ष हंसराज विश्वकर्मा ने पीएम मोदी को मास्क बांटने के बारे में बताया तो प्रधानमंत्री ने कहा था कि अनावश्यक पैसे खर्च करने की आवश्यकता नहीं है। मास्क इलाज में लगे डॉक्टर एवं उनके समाचार सहयोगियों, सफाई कामगारों के लिए जरूरी है ।