ALL राजनीति आरएसएस न्यूज स्पोर्ट्स धार्मिक ताजा न्यूज़ कहानी ,कविता ,महापुरुषों की जीवनियां प्रदेश न्यूज खान पान लाइफ स्टाइल योग व्यायाम आसान
BJP .के वरिष्ठ नेता संबित पात्रा ने कहा बहुत जल्द राम मंदिर बनेगा
September 8, 2019 • विशेष संवाददाता

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता संबित पात्रा ने कहा अयोध्या में बहुत जल्द राम मंदिर बनेगा                                                                                                                                                               भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के वरिष्ठ नेता संबित पात्रा ने शनिवार को कहा कि अयोध्या में बहुत जल्द राम मंदिर बनेगा. पात्रा ने कहा कि जिस प्रकार जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा हटाया गया, ठीक वैसे ही राम मंदिर का निर्माण होगा क्योंकि बीजेपी के कोर एजेंडे का यह एक अहम हिस्सा है.

संबित पात्रा ने कहा, 'भरोसा करें और धीरज रखें, राम मंदिर बहुत जल्द वास्तविकता साबित होगा. पहले हम जहां भी जाते थे, लोग पूछते थे अनुच्छेद 370 कब खत्म होगा. लोगों को लगता था कि ऐसा कभी नहीं होगा.' पात्रा ने कहा, 'लेकिन आप देख सकते हैं कि यह समाप्त हो चुका है. इसलिए बीजेपी के बाकी कोर एजेंडे भी जल्द वास्तविकता साबित होंगे.'

2014 के बाद बदला माहौल

बता दें, अनुच्छेद 370 की समाप्ति, यूनिफॉर्म सिविल कोड और अयोध्या में राम मंदिर निर्माण जैसे तीन मुद्दे बीजेपी के कोर एजेंड में शामिल हैं. संबित पात्रा ने कहा, 'साल 2014 के बाद देश का माहौल बदल गया है. इससे पहले वंशवाद की राजनीति, तुष्टिकरण और भ्रष्टाचार ही सबकुछ था मगर अब विकास और देश को आगे ले जाना सर्वोपरि है.'

पात्रा ने कहा, पहले खुद को हिंदू कहने पर आलोचना होती थी लेकिन आज यह गर्व की बात है. कांग्रेस पर हमला बोलते हुए पात्रा ने कहा कि इस पार्टी ने इतिहास से भगवान राम का नाम मिटाने की कोशिश की. उन्होंने यहां तक कहा कि राम एक पौराणिक चरित्र है. अब उनकी क्या हालत है, आप सब अच्छी तरह देख सकते हैं. भगवान राम की आलोचना करते करते वे भगवान शिव के भक्त हो गए. संबित पात्रा का निशाना राहुल गांधी की ओर था.

 

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के अनुच्छेद 370 हटाने के विरोध का उल्लेख करते हुए पात्रा ने कहा कि वे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की भाषा बोलती हैं और भारत में जो कुछ भी अच्छा हो रहा है, उससे उनको समस्या है. आज जब कुछ अच्छा हो रहा है- चाहे चंद्रयान-2 मिशन हो या अनुच्छेद 370 समाप्त होना, उन्हें इससे दिक्कत है. वे हमेशा राजनीति करती हैं जो काफी दुख की बात है. ममता को हिंदुस्तान से कोई 'ममता' नहीं है. संबित पात्रा ने असम में एनआरसी विरोध के लिए भी ममता बनर्जी की आलोचना की.