ALL राजनीति स्पोर्ट्स आरएसएस न्यूज धार्मिक कोरोना वायरस योग व्यायाम आसान / लाइफ स्टाइल / खान पान ताजा न्यूज़ देश - विदेश कहानी ,कविता ,महापुरुषों की जीवनियां प्रदेश न्यूज
21 जून को पड़ने वाला सूर्य ग्रहण
June 20, 2020 • जनस्वामी दर्पण

21 जून को पड़ने वाला सूर्य ग्रहण

कुंडलाकार

साल का पहला सूर्य ग्रहण इस हफ्ते की 21 तारीख को लगने वाला है। ये ग्रहण भारत के अलावा, मध्य अफ्रीकी गणराज्य, कांगो, इथियोपिया, पाकिस्तान और चीन सहित अफ्रीका के कुछ हिस्सों में भी दिखाई देगा। 21 जून को पड़ने वाला ये सूर्य ग्रहण कुंडलाकार है। इस तरह के ग्रहण में सूर्य का हिस्सा ही ढका हूआ दिखता है इस कारण ये पूर्ण सूर्य ग्रहण से भिन्न होता है. बता दे कि कुंडलाकार ग्रहण 'रिंग ऑफ फायर' बनाता है। सुर्य ग्रहण को कभी भी नग्न आंखों से नहीं देखना चाहिए. इससे आंखें बुरी तरह प्रभावित हो सकती हैं। हालांकि खगोल प्रेमी इस दश्य का बेसब्री से इंतजार करते हैं ।ऐसे में आइए जानते हैं कि आप इस ग्रहण को कब और कहां देख सकते हैं__

कब दिखेगा सूर्य ग्रहण देश में सूर्य ग्रहण का प्रारंभ सुबह 10 बजकर 31 मिनट के करीब होगा और इसकी समाप्ति 02 बजकर 04 मिनट पर होगी। ग्रहण की कुल अवधि 03 घंटे 33 मिनट की होगी। दोपहर 12-18 बजे के करीब ग्रहण अपने पूर्ण प्रभाव में रहेगा। वहीं, ग्रहण का सूतक शनिवार यानि कि 20 जून की रात 09.25 सुबह से शुरू हो जायेगा।

ग्यों  नग्न आंखों से नहीं देखना चाहिए.. सुर्य ग्रहण को खाली आंखों से देखना वर्जित माना गया है. ऐसा इसलिए क्योंकि नग्न आंखों से सुर्य ग्रहण देखना आंखों के लिए हानिकारक हो सकता है। न केवल ज्योतिषी बल्कि वैज्ञानिकों का भी मानना है। कि सुरज को आमतौर पर भी खाली आंख से नहीं देखना चाहिए। वैज्ञानिकों के अनुसार अगर लोग डायरेक्ट सूरज को देखेंगे तो आंखों में मौजूद लेंस सूरज की रोशनी को रेटिना पर फोकस कर देगा। ये रोशनी इतनी ताकतवर होती है रेटिना को डैमेज करने में सक्षम है।

कैसे देखें ग्रहण

आप चाहें तो सोलर फिल्टर चश्मे या फिर टेलीस्कोप की मदद से ग्रहण को देख सकते हैं। सुर्य ग्रहण को देखने के लिए वैज्ञानिक पिन होल का इस्तेमाल करने की सलाह भी देते है। पिन हाल का आसाना स ग्रामाण इलाका म भा बनाया जा सकता ह। इसक अलावा सूर्य ग्रहण दखन क लिए बाजार म कई साटफाइड चश्म उपलब्ध है। सूर्य ग्रहण क दारान इन चश्मा का इस्तमाल भा खूब किया जाता ह। इसक साथ हा सूर्य ग्रहण देखने के लिए पिनहोल कैमरे भी बनाए गए हैं। इसके अलावा, ग्रहण को देखने के लिए स्पेशल सोलर फिल्टर्स का इस्तेमाल भी किया जा सकता है।