ALL राजनीति आरएसएस न्यूज स्पोर्ट्स धार्मिक ताजा न्यूज़ कहानी ,कविता ,महापुरुषों की जीवनियां प्रदेश न्यूज खान पान लाइफ स्टाइल योग व्यायाम आसान
झारखंड मुख्यमंत्री .रघुवर दास ने धर्मांतरण कारिर्यो को पहले ही चेतावनी दी थी कि अपने नापाक कृत्यों से बाज आए
September 14, 2019 • विशेष संवाददाता

धर्मान्तरण करने वालों को पहले ही मिली थी चेतावनी.. लेकिन इसको शायद हल्के या मजाक में ले लिए वो दोनों पादरी ने .दोनों गिरफ्तार 

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने धर्मांतरणकारियों को पहले ही चेतावनी दी थी कि वह अपने नापाक कृत्यों से बाज आ जाएँ तथा गरीबों को, आदिवासियों को धमकी या लालच देकर धर्मान्तरित न करें. लेकिन उन दोनों ईसाई धर्मान्तरणकारी पादियों ने झारखण्ड सरकार की इस बात को मजाक में ले लिया तथा वही करना शुरू कर दिया जो ईसाई मिशनरियां करती रही हैं. मामला झारखण्ड के गोड्डा जिले एक गांव का है जहाँ जबरन धर्मांतरण कराने के प्रयास और अपनी भूमि चर्च को दान देने के लिए दबाव बनाने के आरोप में पुलिस ने एक पादरी समेत दो लोगों केा गिरफ्तार किया है.

गोड्डा के पुलिस अधीक्षक शैलेन्द्र कुमार ने बताया कि राजदह गांव के लखीराम बेसरा ने शिकायत की थी कि वहां का स्थानीय पादरी विनोज वी के और मुन्ना हंसदा लोगों को जबरन ईसाई बनाने का प्रयास कर रहे हैं.  पुलिस ने जांच के बाद आठ सितंबर को दोनों पादरियों को गिरफ्तार कर धार्मिक स्वतंत्रता अधिनियम 2017 के तहत अदालत में पेश किया जिसने उन्हें 15 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया.

बताया गया है कि पादरी केरल से यहां तैनाती पर आया था और गांव के लोगों का धर्म परिवर्तन कराने के लिए लगातार प्रयास कर रहा था. उन्होंने बताया कि इस मामले में दो अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है जो फरार हैं. धर्मान्तरणकारी दोनों पादरियों पर ग्रामीणों पर दबाव बनाकर उनकी जमीन भी चर्च को हस्तांतरित करवाने की कोशिश के आरोप हैं. पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है