ALL राजनीति आरएसएस न्यूज स्पोर्ट्स धार्मिक ताजा न्यूज़ कहानी ,कविता ,महापुरुषों की जीवनियां प्रदेश न्यूज खान पान लाइफ स्टाइल योग व्यायाम आसान
उत्तरकाशी में बाढ़ राहत का सामान लेकर जा रहा हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया.
August 21, 2019 • विशेष संवाददाता

उत्तराखंड: उत्तरकाशी में बाढ़ राहत का सामान लेकर जा रहा हेलिकॉप्टर क्रैश,                                   Helicopter crash: उत्तराखंड के उत्तरकाशी में एक हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया. हेलिकॉप्टर का इस्तेमाल बाढ़ राहत के कार्यों में किया जा रहा था.                                                                           नई दिल्ली: उत्तराखंड के उत्तरकाशी में बाढ़ राहत का सामान लेकर जा रहा हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया. न्यूज एजेंसी के मुताबिक, उत्तरकाशी जिले में हेलिकॉप्टर मोरी से मोल्डी जा रहा था. हादसा उत्तरकाशी के मोलडी में हुआ. हेलिकॉप्टर में पायलट राजपाल, सह पायलट कप्ताल ला और एक अन्य स्थानीय व्यक्ति रमेश सवार थे. एसडीएम सदर देवेंद्र नेगी ने कहा कि हेलीकॉप्टर पर सवार तीन लोगों की मौत हो गई. राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल (एसडीआरएफ) के पीआरओ ने कहा, "हेलीकॉप्टर में सवार कैप्टन लाल, सह-पायलट शैलेश और एक स्थानीय व्यक्ति राजपाल की दुर्घटना में मौत हो गई. दुर्घटनास्थल पर 10 सदस्यों की एक टीम भेजी गई है."                                                उत्तरकाशी के जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी देवेंद्र पटवाल ने बताया कि हेलीकॉप्टर में तीन व्यक्ति सवार थे और वह प्रभावित लोगों के बीच राहत सामग्री वितरित कर वापस लौट रहा था. उन्होंने बताया, "शुरूआती सूचना के अनुसार, हेलीकॉप्टर ज्यादा उंचाई पर दुर्घटनाग्रस्त नहीं हुआ." जिले के मोरी क्षेत्र में गत रविवार को बादल फटने और लगातार भारी बारिश से हुए भूस्खलन की घटनाओं में कई गांव प्रभावित हुए और मकान ढह गये जिसमें 15 व्यक्तियों की मृत्यु हो गयी थी. आपको बता दें कि उत्तराखंड के कई जिलों में भारी बारिश से बाढ़ की स्थिति बनी हुई है. मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत लगातार बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा कर रहे हैं. उन्होंने मंगलवार को ट्वीट कर कहा कि "उत्तरकाशी में प्राकृतिक आपदा से प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया और क्षेत्र की जनता से मिलकर आपदा की त्रासदी के दर्द की व्यथा सुनी और सरकारी मदद का भरोसा दिया. मैं सोशल मीडिया के माध्यम से भी विश्वास दिलाता हूँ कि प्रभावितों की हर सम्भव मदद की जाएगी और उसमे कोई कमी नहीं होगी."